Sunday, October 2, 2011

Om Varma की बेहतरीन पंक्तिया.....................आज के दिन को सार्थक करते हुए.................

अक्टूबर की दूसरी, माह जनवरी तीस |
दो दिन गांधी देवता, बाकी दिन 'शो पीस

No comments: