Saturday, September 3, 2011

प्रशासन पुराण 24

प्रदेश में आगामी तीन वर्षों बाद चुनाव है यह बात नेता ओर प्रशासन के अलावा कौन समझ सकता है अब जिलाधिकारी भी दस करोड देकर यहाँ आया है तो बस एक आदर्श विधानसभा बनाने हेतु क्रिया कलाप कर रहा है हर बैठक में विभिन्न विभागों से लंबे चौड़े प्रस्ताव मांगता है करोडो की योजनाये बन रही है समुदाय को भी कुछ काम चालू होता दिखेगा, नेता के वोट पक्के, जिलाधिकारी के नोट पक्के, बाबूओ की जेब गर्म ओर चपरासियो की चांदी बस सब मजे में है(प्रशासन पुराण 24)

No comments: