Thursday, December 22, 2011

हम जो अभिशापित हैं.
हारी हुई लड़ाइयों के साथ खड़े होने को..
हम जूलियस फ्यूचिक हैं..
आखिरी जंग में आखिरी बचे दुश्मन
की आखिरी गोली
अपने सीने के नाम दर्ज करने को तैयार
जीत के पहले मर जाना बुरा तो है..
पर जरूरी भी..

No comments: