Friday, December 18, 2015

Posts of 17 Dec 15


सुबह सवेरे 17 दिसंबर 15 में.........

*****
इतना बड़ा भ्रष्ट आदमी वित्त मंत्रालय सम्हाल रहा है तभी पेट्रोल, प्याज, दाल और बाकी जरुरत की चीजों की यह हालत है, किसान आत्महत्या, अम्बानी द्वारा बारह सौ करोड़ की गैस चोरी, बैंकों की बड़ी सब्सीडी बड़े लोगों को, और देश के सारे लोगों को मरने की कगार पर लाकर मात्र दो प्रतिशत लोगों को फ़ायदा पहुंचाने में माहिर यह आदमी एक बड़ा बोझ है देश पर, परन्तु अंधभक्तों को यह दिखेगा नहीं क्योकि बोलना पाप है.............और मन मोहन पार्ट टू बोलेंगे नहीं क्योकि अगर यह चला गया तो वित्त की समझ वाला कोई और नहीं है ना..........
अरुण जेटली इस्तीफा नही देंगे बेशर्म आदमी है
जब वित्त मंत्रालय में दीमक लग जाए तो

*****

एक यारबाश दोस्त और कवि को जन्मदिन मुबारक। यारबाशी फ़ले फूले, टापरी का मिजाज ना बिगड़े और ठेठ देसीपन आबाद रहें और कविता कर्म रचनात्मक बना रहे लम्बी उम्र तक यही शुभकामनाएं, हे काव्यार्थ के जनक बहादुर पटेल।


*****
चैनलों पर जारी बहसों से तो लग रहा है कि अरुण जेटली भृष्ट है। आप के लोग कल कुछ धमाका करेंगे पर मितरो इस्तीफे की उम्मीद मत रखना , दो कारण है - एक तो बलात्कारी निहालचंद्र अभी तक केबिनेट मंत्री है भोगी आदित्यनाथ टाइप लोग भी सांसद है। दूसरा अम्बानी, अड़ानी को फायदा पहुँचाने वाली वित्तीय समझ के जेटली जैसे कारपोरेट प्रतिबद्ध समझदार लोग नही है बहुमत में ।
सातवी, आठवी या बारहवी पास भाई - बहनजी है जो दूरगामी वित्तीय नियोजन नही कर पाएंगे ऐसा नियोजन जो कारपोरेटी संस्कृति को बढ़ावा दें और अमीरो का फायदा करवाएं।
मनमोहन सिंह और मोंटेक सिंह जैसे लोग बेरोजगार है, कन्सल्टेन्सी ले को मोदी जी !!!!


*****

गम से अब घबराना कैसा 
गम सौ बार मिला ।


No comments: