Saturday, February 16, 2013

जब अशोक कलिंग युद्ध के बाद व्यथित था, तो उसने सबसे पूछा कि जीवन का क्या उद्देश्य है और कौन विजेता है ?

एक भिक्षु ने उत्तर दिया "हे राजन सफल वो है जिसने अपनी यात्रा पूरी करली ..."

साभार Prakalpa Sharma

शायद समय आ गया है हम राजनों का और यात्राओं को पूरा करने का , यही शाश्वत सत्य है !!!

No comments: