Thursday, May 12, 2016

Posts of 12 May 16 Amey Passed XII Board Exam with 75 %




Amey Naik Congrats for securing 75% in XII Board Exams for 2016. 
We are proud of you buddy. The real.life begins now ... Good Luck for up coming dazzling Future.


Students who have passed XII Board Exams today in MP. Congrats to all.
The real challanges are starting now and lot more successes and failures, learnings are yet to come in life. Remember guys - % and marks are mere reflection of stupid exam pattern and nt the parameters of your hidden competence and wonderful inbuilt skills. Keep the spirit up. Be positive, choose the line, career you want to do things in life, dont go by others, take a path you want to walk on and with full efforts and enthusiasm Crack the World. Think beyond imagination and do toil to achieve 100% in Life. Do what you enjoy. Lets celebrate this joy with family, friends and your self. Stay blessed.

*****
4411 दोस्तों में से लगभग दस प्रतिशत युवा मित्रों से पूछता हूँ तो कहते है दिल्ली, इलाहाबाद या कही और से UPSC की तैयारी कर रहा हूँ, IAS Aspirant हूँ...........आदि आदि !!!!
अरे मित्रों कोई बना क्या इस बार ?
बरसों से तैयारी करके क्यों माँ - बाप का रुपया दिल्ली में डुबो रहे हो और यहाँ झांसे दे रहे हो, चौबीसों घंटे यहाँ रहोगे और वाट्स एप पर ज्ञान बांटोगे तो अधिकारी क्या ख़ाक बनोगे......
सुधर जाओ और कुछ नहीं तो प्रधानमंत्री कौशल भारत में ट्रेनिंग लेकर मिस्त्री, लुहार, सुतार, बन जाओ कुछ तो कमा खाओगे और शादी ब्याह करने की हिम्मत करोगे और अब अपनी प्रोफाईल से IAS Aspirant हटा लो .ताकि मै कह सकूं कि युवा है दिल्ली, इलाहाबाद में बाप कमाई पर घूम फिर रहे है.
*****
उस जल्लाद के अन्दाज़-ए-क़त्ल का क्या कहिए,
करने गए थे उनको क़त्ल और सिपहसलार हो गए।

*****
अभी देखा विचार कुम्भ में ऐसे लोग पहुँच गए जो विचार शून्य है और हमारी मराठी में ऐसे लोगों को बोलते है कि इनका ऊपरी माला खाली है !!!
कुछ एनजीओ के लोग और लुगाईन भी पहुंच गए बन ठन के कि कुछ जुगाड़ हो जाए दाना पानी का या कुछ नही तो अपने स्वयंभू निदेशक के कार्ड का रायता ही बाँट आएंगे, या कुछ नही तो कार्पोरेट्स के चिकने चुपड़े चेहरों को ही अपना थोबड़ा दिखा आएंगे और परफ्यूम सूँघा आएंगे। अभी एक को देखा तो ये ख्याल आया।
सही भी लगा फिर कि वहाँ सुनना ही है बोलना, और सोचना मना है तो बाकि जाकर करेंगे क्या 

1 comment:

JEEWANTIPS said...

सुन्दर व सार्थक रचना प्रस्तुतिकरण के लिए आभार!

मेरे ब्लॉग की नई पोस्ट पर आपका स्वागत है...