Friday, May 25, 2018

Challenge by a Cabinet Minister 24 May 2018



बहुत दिक्कत है आजकल अपने हिन्दू राष्ट्र में -
एक केंद्रीय मंत्री दंड लगाकर बेशर्मी और अश्लीलता से देश को चैलेंज करता है - जिस देश मे रोजी रोटी नही, कुपोषित शरीर लिए लोग भूखों मार दिए जा रहे हो वहां बेशर्मी से सरकार का नुमाईंदा नंगे भूखों को चैलेंज करता है - क्या समझ है, क्या दिमाग़ है, क्या चयन है और क्या दृष्टि है विकास की
एक रामदेव था जिसने फू फां करके अरबों खरबों का साम्राज्य खड़ा कर लिया
लोगों को मारो स्नाइपर से, किसानों को आत्महत्या करने दो , महिलाओं को असुरक्षित रखो, बच्चों को कुपोषण से ही मुक्त मत करो ना आक्सीजन दो - मार डालो
एनकाउंटर में लोगों को मारो , फ्रिज को टटोलकर मारो और मोब लीनचिंग में मारो
अपढ़ , कुपढ़ , अहम , गुस्से और घमंड से भरे लोग और क्या कर सकते है
रोजी रोटी तो दे नही सकते , लोगों की मेहनत की कमाई को हड़प जाना जिनकी नीयत हो उनसे क्या बहस
देते रहिये चैलेंज - हिम्मत हो तो जनता के बीच बगैर जेड सुरक्षा के आकर बताओ , हिम्मत है तो एक कुएं में उतरकर सफ़ाई करके बताओ, एक तालाब की मिट्टी खोदकर बताओ, हिम्मत है तो इस तेज गर्मी में तेंदू पत्ते की सौ गड्डियां इकठ्ठी कर बताओ, एक खेत मानसून के पहले तैयार करके बता दो, एक कुपोषित बच्चे को स्वस्थ कर बता दो, एक सुरक्षित प्रसव के लिए काँधे पर किसी बेटी को अस्पताल पहुंचाकर बता दो - बात करते हो
और अगर नही तो मूर्खो और गंवारों की तरह से बात करके देश का नाम दुनिया मे मत डूबाओ , एक ट्रम्प काफी नही क्या मनोरंजन को

No comments: