Thursday, September 13, 2012

एक हारे और थके हुए मुखिया का बयान............Dr Manmohan Singh PM India

देशवासियों -एक हारे और थके हुए मुखिया का बयान............
अब हारने वाले तों है क्या करें और क्या ना करे कम से कम २०१४ तक ही जैसे तैसे सरकार ढो लें यही बहुत है................तों जनता जनार्दन अब मेरे पास कोई और चारा नहीं है आपको डीजल और गैस में रूपया देना ही होगा और रहा सवाल आपकी जेब का तों देखो ना मेरे पास तों शरद पवार या कमलनाथ से भी कम संपत्ति है तों अब आप ही बताए कि मै पी एम हूँ जब मेरी यह हालत है तों आपको तों नंगा-भूखा रहना ही होगा ना और हाँ ज्यादा चबड चबड मत करना फेसबुक पर वरना देशद्रोह में सालों अंदर करवा दूंगा..............चलता हूँ जाकर गुरशरण कौर को समझाता हूँ कि साल में सिर्फ छः टंकी ही वापरना क्योकि सातवे पर ज्यादा देना होगा वैसे भी अब आपकी गालियाँ खा - खाकर पेट भर ही जाता है ऊपर से बाबा की उम्मीदें, जिद और मेडम जी की डाट भी जब से यहाँ आया हूँ, खा ही रहा हूँ, अब आपसे छुपा है क्या कुछ.................खैर भाईयों-बहनों मै मानता हूँ कि आज़ाद हिन्दुस्तान का मै सबसे निकम्मा निकला यह तों कम से कम इतिहास में दर्ज रहेगा.......चलो यही सही बुढापे में क्या-क्या सहना पडेगा................और हाँ एक राज़ की बात - आप लोग ज्यादा चिल्लाओगे तों एकाध रूपया कम कर दूंगा डीजल पर और गैस की टंकी छः से आठ कर दूंगा पर कीमत तों कम नहीं करूँगा.............मोंटेक भैया ने भी कहा था कि कम मत करना सालों को भुगतने दो, मरे साले अपन तों अब सत्ता में आयेंगे नहीं, सो आप मरे और जग डूबे.......वर्ल्ड बेंक का भी दबाव है................खैर चलू अब........ जय राम जी की.............सत् श्री अकाल, जों बोले सो निहाल.....

No comments: