Saturday, June 24, 2017

रेलवे और ट्वीटर सरकार, निठल्लों की चांदी और यात्रियों की मुसीबत

कल रात लोकमान्य तिलक टर्मिनल, मुम्बई से हम 5 साथी ट्रेन 11015 में बैठे।

ट्रेन में इतनी भीड़ थी कि लग ही नही रहा था कि रेलवे को ईद की कोई खबर होगी। क्या त्योहारों पर अतिरिक्त ट्रेन चलाने का या बोगियां लगाने का कोई रिवाज़ नही है। देश के नागरिक परेशान होते जा रहे है। टी टी ने मुम्बई से गौंडा, गाजीपुर, गोरखपुर तक के टिकिट के अलावा  ₹ 1000 तक वसूले और बच्चोँ के भी ले लिए जबकि ना सीट थी ना जगह । यह कैसा सलूक है लोगों को परेशान करने का। भाई Md Khursheed Akbar भी उसी समय दूसरी ट्रेन से घर जा रहे थे उन्होंने भी बताया कि उनकी ट्रेन में यही हाल है। ये भेदभाव करते है आप देश वासियों के साथ। रात तो मैं लोगों पर गुस्सा था पर असली जड़ रेलवे है जो निहायत लालची, भ्रष्ट और आदमखोर हो गया है।

ट्रेन में जैसे तैसे घुसे और देखा कि फ्लाईंग स्क्वाड वाले सबकी रसीद बना रहे है।

बाद में पाया कि बाथरूम में पानी नही है, टी टी को बोला तो बोला मैं कुछ नही कर सकता।

मैने, सचिन जैन और राकेश मालवीय ने सुरेश प्रभु को ट्वीट करना शुरू किया। कुल 20 से ज्यादा ट्वीट किए पर मक्कार अधिकारियों को फर्क नही पड़ा।

परंतु कोई जवाब नही आया। रात भर भीड़ बढ़ती रही, और टी टी साहब जमकर कमाते रहे और हमारे बार बार कहने पर भी कुछ नही कर रहे थे।

मैं चूंकि शक्कर का मरीज हूँ अतः बाथरुम जाना पड़ता है पर रात में एक बार भी जाने को नही मिला क्योकि भीड़ बदतर थी।

लोग इफ़्तार कर रहे थे, महिलाएं, बच्चे बुरी तरह कुचले जा रहे थे। सुबह से सेहरी कर रहे थे और एक अफरा तफरी मची हुई थी।

सुबह रेलवे ने हमसे ट्विटर पर पी एन आर नम्बर मांगे सो हमने दिए।

मामला भुसावल को हस्तगत किया गया था यही संदेश बार बार सबको आता रहा।

आखिर फिर मैंने लिखा कि 7 बार ट्वीट करने के बाद भी भीड़ पानी और पुलिस का कुछ नही हो रहा था तो लगा कि यह सिर्फ मूर्ख बनाने का धन्धा है।

1 जुलाई से रेलवे कन्फर्म टिकिट देने वाला है कैसे देगा इतने अक्षम मंत्री, निठल्ले कर्मचारी और ट्वीटर पर बैठकर मंत्रालय चलाने वाले लोग बैठे है तो ये क्या खाकर व्यवस्था और तन्त्र चलायेंगे ?

भारतीय रेल की दुर्दशा के लिए सुरेश प्रभु और उनकी पूरी टीम जिम्मेदार है।

आखिर तंग आकर मुझे खण्डवा उतरना पड़ा और वहां से बस से घर पहुंचा हूँ।

मुझे जो सन्त्रास और शारीरिक नुकसान हुआ उसके लिए यह ट्वीटर सरकार जिम्मेदार है।

सुरेश प्रभु और उनका मंत्रालय गैर जिम्मेदार और लापरवाह है और इनके अधिकारी, स्टाफ , रेलवे पुलिस और टी टी हद दर्जे तक धूर्त और भ्रष्ट है।

#sueshpprabhu @sureshpprabhu, #IndianRail ,#DRMMumbai, #DRMBhusawal

No comments: